होम Business Sharaab को लेकर Uttar Pradesh सरकार का बड़ा फैसला

Sharaab को लेकर Uttar Pradesh सरकार का बड़ा फैसला

घर में ज्यादा Sharaab रखने वाले हों जाए सावधान

Sharaab : इस वक्त की बड़ी खबर Uttar Pradesh से सामने आ रही है, जहां पर अब घर में ज्यादा Sharaab रखने के लिए आपको लाइसेंस जारी किया जाएगा। जी हां, अगर आप Uttar Pradesh के रहने वाले हैं तो आपको अपने घर में ज्यादा Sharaab रखने के लिए लाइसेंस लेना पड़ेगा। उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार ने साल 2021-22 के लिए आबकारी नीति जारी की है।

सरकार द्वारा इतने राजस्व प्राप्ति का लक्ष्य

योगी सरकार ने साल 2021-22 में आबकारी विभाग से 34 हजार पांच सौ करोड़ रुपये की राजस्व प्राप्ति का लक्ष्य रखा है, जिसके तहत राज्य में शराब उत्पादन का प्रोत्साहन किया गया है।

सरकार की इस आबकारी नीति का उद्देश्य ‘Ease of doing business and good governance’ को बढ़ावा देना है। आपको बता दें कि 2021-22 में विभाग की सभी प्रक्रियाओं को कम्प्यूटराज्ड मतलब ऑनलाइन कर IESCMS यानी इंटीग्रेटेड सप्लाई चेन मैनेजमेंट सिस्टम को लागू किया जाएगा। Sharaab

POS Machine के द्वारा Sharaab बिक्री करने की व्यवस्था

इसके अलावा फुटकर दुकानों से पीओएस मशीन (Pos machine) के जरिए बिक्री करने की व्यवस्था भी लागू की जाएगी। साथ ही फुटकर दुकानों (Retail shops) पर भी ई पोस मशीन अब अनिवार्य होगी।

Uttar Pradesh

वहीं आबकारी नीति के तहत, राज्य में उत्पादित फल से निर्मित शराब पर प्रतिफल फीस नहीं लगाई जाएगी, जो कि आगामी पांच साल तक ऐसे ही रहेगा। साथ ही अब विंटनरी अपने परिसर में स्थानीय उत्पादित वाइन की फुटकर बिक्री कर सकेगी। Sharaab

बीयर पर लगने वाला प्रतिफल शुल्क होगा अब कम

वहीं आपको ये भी बता दें कि पड़ोसी राज्यों की तुलना में बीयर की MRP ज्यादा होने और कोरोना वायरस महामारी की वजह से बीयर की खपत प्रभावित होने के कारण ही बीयर पर प्रतिफल शुल्क को सरकार द्वारा कम कर दिया गया है। बीयर की शेल्फ लाइफ नौ महीने तक के लिए होगी।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Batla House Encounter : आरोपी अरीज खान बाटला हाउस का दोषी पाया गया, 2008 के विस्फोटों का मास्टरमाइंड भी #Batla House Encounter

Batla House Encounter : आरोपी अरीज खान 2008 के विस्फोटों का आरोपी Batla House Encounter : एक स्थानीय अदालत...

जानें क्या होता है सिक्योर्ड और अनसिक्योर्ड लोन, दोनों में क्या अंतर है

लोन का जिक्र घूमने पर दो शब्द अक्सर सुनाई देते हैं- सिच्योर्ड लोन और अनसिक्ट्योर्ड लोन। हालांकि ज्यादातर लोगों को इन दोनों...

मार्च के महीने में निपटा लें फाइनेंस और टैक्स के ये जरूरी काम, नहीं तो परेशान होंगे

मार्च के महीने में करदाताओं को टैक्स से जुड़े कई जरूरी काम करने होते हैं। मार्च महीने के...

टैक्स सेविंग टिप्स: ये 5 खर्चे बचाते हैं आपका टैक्स, जानें इनके बारे में

हर कोई विभिन्न तरह के निवेश के जरिए अपनी कमाई को टैक्स के रूप में देने से बचाने की कोशिश करता है। ...

Recent Comments