होम News Brisben test: गाबा का अभेद गड़ टीम इंडिया ने किया विजय, इसी...

Brisben test: गाबा का अभेद गड़ टीम इंडिया ने किया विजय, इसी के साथ 2-1 से भारत ने जीती सीरीज

Brisben टेस्ट में टीम इंडिया का विजयी पताका

Brisben टेस्ट में इतिहास बन चुका है। टीम इंडिया की जीत की पताका ऑस्ट्रेलिया में फहर चुकी है। 32 साल बाद उसका गढ़ लुट चुका है। 1988 में जो वेस्टइंडीज ने आखिरी बार किया था, 2021 में उस कमाल को भारतीय टीम ने दोहराया है।

Brisben test: गाबा का अभेद गड़ टीम इंडिया ने किया विजय, इसी के साथ 2-1 से भारत ने जीती सीरीज
Brisben test: गाबा का अभेद गड़ टीम इंडिया ने किया विजय, इसी के साथ 2-1 से भारत ने जीती सीरीज

इससे पहले भी 7 टीमों ने ऑस्ट्रेलिया को हराने की कोशिश की

इससे पहले 7 टीमों ने 31 बार ऑस्ट्रेलिया को Brisben ने में हराने की कोशिश की थी, जिसमे से 3 कोशिश भारत की तरफ से भी हुई थी। लेकिन सब नाकाम रहे थे, हर बार उसका यह किला अभेद रहा था।

लेकिन, इस बार टीम इंडिया ने यह अभेद किला जीत लिया है। 1988 के बाद ब्रिसबेन में ओवरऑल 32वें और अपने चौथे टेस्ट में टीम इंडिया ने यह कारनामा कर दिखाया है।

इस जीत का पूरा श्रेय बेंच स्ट्रेंथ और युवाओं को

भारत की इस सफलता का श्रेय रहाणे के रणबांकुरों को ही जाता है। इस जीत का श्रेय टीम इंडिया की बेंच स्ट्रेंथ और युवाओं को जाता है, जिसने अपने ऊपर जताए मैनेजमेंट के भरोसे पर सौ टका खरा उतरकर दिखाया है।

Brisben में ऑस्ट्रेलिया के अजेय रिकॉर्ड को देखते हुए हर कोई भारत के पलड़े को कम आंक रहा था और उसे हल्के में ले रहा था इसके पीछे एक बड़ी वजह भारतीय खेमें में सीनियर खिलाड़ियों की गैर मौजूदगी भी थी।

Brisben में टीम इंडिया गेंदबाजों की नई फौज लेकर उतरी

Brisben में टीम इंडिया गेंदबाजों की नई फौज लेकर उतरी थी। सबके मन में उसके खरे उतरने को लेकर सवाल था। सवाल इस बात को लेकर भी था कि ये बॉलिंग लाइनअप ऑस्ट्रेलिया की अनुभवी बल्लेबाजों की टोली का मुकाबला कैसे करेगी।

आखिर किस तरह ये 20 विकेट चटकाएगी। लेकिन सिराज, सैनी, ठाकुर, नटराजन और सुंदर ने मिलकर ऐसा मेला लूटा कि सभी का इनको लेकर जो भी भ्रम था वो सब टूट गया।

Brisben में टीम इंडिया ने रन चेज का बनाया रिकॉर्ड

Brisben टेस्ट में ऑस्ट्रेलिया ने भारत के सामने जीत के लिए 328 रन का लक्ष्य रखा था। यहां 236 रन से ज्यादा का स्कोर चेज नहीं हुआ था।

ऐसे में जीत की डगर मुश्किल जरूर थी, लेकिन भारत ने इस आंकड़े की परवाह नहीं की। उसके सामने अपने लक्ष्य को पाने के लिए आखिरी दिन 98 ओवर का खेल था।

टीम इंडिया ने इस अवसर को भुनाया और जीत को गले लगाया। अब ब्रिस्बेन की जब भी बात होगी, सबसे सफल चेज पर भारत का ही नाम होगा।

सहवाग ने ट्वीट कर ऋषभ पंत की जमकर तारीफ की

सहवाग ने फोटो ट्वीट करते हुए ब्रिस्बेन में मिली टीम इंडिया की ऐतिहासिक यागदार जीत पर खुशी जताते हुए ऋषभ पंत की भी जमकर तारीफ की है।

सहवाग ने ट्विटर पर लिखा, ”खुशी के मारे पागल। ये नया भारत है, घर में घुसकर मारता है। एडिलेड की जीत से लेकर ब्रिसबेन की जीत तक जो हुआ, टीम इंडिया के इन युवाओं ने हमें जिंदगीभर की खुशी दे दी है। हम विश्व कप जीत चुके हैं, लेकिन ये जीत बेहद ही खास है। हां, पंत ज्यादा स्पेशल हैं जिसकी वजह भी है।”

भारत ने 3 विकेट से जीत दर्ज की, ओर सीरीज 2-1 से अपने नाम की

अपने दो युवा बल्लेबाजों शुभमन गिल और ऋषभ पंत की आकर्षक अर्धशतकीय पारियों के दम पर भारत ने चौथे और अंतिम टेस्ट क्रिकेट मैच में तीन विकेट से ऐतिहासिक जीत दर्ज करके सीरीज अपने नाम कर ली।

इसी के साथ भारत ने ऑस्ट्रेलिया की गाबा में 32 वर्षों से चली आ रही बादशाहत भी खत्म कर दी। भारत ने 2-1 से जीतकर बोर्डर-गावस्कर ट्राफी अपने पास बरकरार रखी है।

BCCI ने टीम इंडिया को दिया तोहफा, 5 करोड़ बोनस का ऐलान

ऑस्ट्रेलिया में मिली इस जीत के साथ ही टीम इंडिया पर रुपयों की बारिश होना शुरू हो गई है। BCCI ने भारतीय टीम को 5 करोड़ का बोनस देने का ऐलान किया है।

BCCI सचिव जय शाह ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ भारतीय टीम के बेजोड़ प्रदर्शन की सराहना करते हुए उसके लिए पांच करोड़ रुपये के बोनस की घोषणा की है।

अंतिम ओवर का रोमांच, पंत का विजयी चौका

पंत ने इस मैच में चौका लगाकर भारत को जीत दिलाई और ऑस्ट्रेलिया के सीरीज को ड्रा करने की उम्मीदों पर पानी फेर दिया।

ड्रॉ करने के लिए खेलने के बजाय पंत और वाशिंगटन सुंदर ने अंतिम ओवरों में शानदार प्रदर्शन करते हुए ऑस्ट्रेलियाई टीम को बैकफफट पर धकेलते हुए मैच को भारत के पाले में ला दिया।

पिछले तीन दशकों में करीब 32 वर्षों में ऐसा पहली बार हुआ है कि आस्ट्रेलियाई टीम गाबा में कोई टेस्ट मैच हारी है।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Batla House Encounter : आरोपी अरीज खान बाटला हाउस का दोषी पाया गया, 2008 के विस्फोटों का मास्टरमाइंड भी #Batla House Encounter

Batla House Encounter : आरोपी अरीज खान 2008 के विस्फोटों का आरोपी Batla House Encounter : एक स्थानीय अदालत...

जानें क्या होता है सिक्योर्ड और अनसिक्योर्ड लोन, दोनों में क्या अंतर है

लोन का जिक्र घूमने पर दो शब्द अक्सर सुनाई देते हैं- सिच्योर्ड लोन और अनसिक्ट्योर्ड लोन। हालांकि ज्यादातर लोगों को इन दोनों...

मार्च के महीने में निपटा लें फाइनेंस और टैक्स के ये जरूरी काम, नहीं तो परेशान होंगे

मार्च के महीने में करदाताओं को टैक्स से जुड़े कई जरूरी काम करने होते हैं। मार्च महीने के...

टैक्स सेविंग टिप्स: ये 5 खर्चे बचाते हैं आपका टैक्स, जानें इनके बारे में

हर कोई विभिन्न तरह के निवेश के जरिए अपनी कमाई को टैक्स के रूप में देने से बचाने की कोशिश करता है। ...

Recent Comments