Krishna Janmashtami 2022 | कृष्णजन्माष्टमी का पर्व क्यों मनाया जाता है | कृष्ण जन्माष्टमी इन सांवरिया जी | जन्माष्टमी कौन सी तारीख को है

Krishna Janmashtami 2022 जाने क्यों मनाया जाता है कृष्ण जन्माष्टमी का पर्व

Krishna Janmashtami 2022 : भगवान श्री कृष्ण का त्योहार जन्माष्टमी बड़े ही धूमधाम से मनाया जाता है Krishna Janmashtami 2022 भारत देश में जन्माष्टमी का पर्व भगवान श्री कृष्ण के जन्म दिवस पर मनाया जाता है जो कि इस बार भारत में 18 अगस्त को त्यौहार मनाया जाएगा इस त्यौहार को लेकर सभी श्रद्धालुओं और भारतवर्ष की युवाओं में एक अलग ही उत्साह देखने को मिलता है Krishna Janmashtami 2022 जिसे देख कर हमारे राजस्थान के पास में खाटू श्याम में भी बहुत ज्यादा भीड़ एवं उनके साथ में यह त्यौहार मनाया जाता है तो इसी त्योहार को लेकर हम आपको बताएंगे कि कृष्ण जन्माष्टमी पर किस तरीके से उपवास करें कि आपकी हर मनोकामना पूरी हो आपकी हर पूजा सफलता काम नौकरी व्यवसाय धंधा सब अच्छे से चल सके Krishna Janmashtami 2022

Krishna Janmashtami 2022

माखन की मिठाई कृष्ण जन्माष्टमी पर

जानिए क्यों कृष्ण जन्माष्टमी पर माखन की बनी हुई मिठाई सबको खिलाई जाती है दरअसल माखन की बनी हुई मिठाई भगवान श्री कृष्ण को बहुत ही ज्यादा पी ली थी वह उनके बचपन में हमेशा मटको से भरी हुई माखन खाया करते थे और साथ-साथ उसे पूरे ही अपने कपड़े माखन कर दिया करते थे और भगवान श्री कृष्ण ने उनके बचपन के जीवन काल में बहुत ही ज्यादा माखन खाया है इसलिए उनकी गाल लाल लाल है भगवान श्री कृष्ण को गोकुल में बहुत ज्यादा पसंद करती थी सभी बालिकाएं गोपियां भगवान श्री कृष्ण के लिए  श्री कृष्ण माखन खा कर  बहुत ही प्रसन्न होते थे तभी से भगवान श्री कृष्ण भगवान को मथुरा में वृंदावन में खाटू श्याम उज्जैन मंदिर में भगवान श्री कृष्ण का त्यौहार बड़ी धूमधाम से मनाया जाता है

भगवान कृष्ण को इतना क्यों माना जाता है

 भगवान कृष्ण को इतना अपना भगवान मानने के पीछे बहुत बड़े उनके बलिदान है क्योंकि भगवान श्री कृष्ण बचपन से ही अपने चमत्कार दिखाते आए हैं और उन्होंने उनके गांव मथुरा में बहुत ही लोगों की जान बचाई है और बहुत ही प्रबल संकट से लोगों को दूर किया है ऐसा बताया जाता है गुरुओं में पुराणों प्रणव में कि भगवान श्री कृष्ण की महिमा ही श्री भगवान कृष्ण ने सबसे आगे है भगवान कृष्ण उनके बाद सभी देवी देवता आते हैं भगवान कृष्ण ने हंस का संघार किया था और बहुत सारे बालक बालिकाओं की जान बचाई थी और साथ ही साथ अपने माता और पिता का नाम रोशन किया था इसी के साथ आज भगवान कृष्ण के बहुत सारे ऐसे चमत्कार हमने देखे गए हैं इसी कारण से हम वह कृष्ण को इतना माना जाता है

कृष्ण जन्माष्टमी इन सांवरिया जी

 जन्माष्टमी का यह पावन तक हम भारत के इस राजस्थान में बहुत ही धूमधाम से मनाया जाता है राजस्थान में भगवान श्रीकृष्ण का मंदिर है जिन्हें हम श्री सांवरिया जी के नाम से जाना जाता है जन्माष्टमी इन सांवरिया में बहुत ही धूमधाम से मनाई जाती है यहां पर बड़ी ही उत्साह के साथ ही लोग अपने घरों से लेकर आते हैं और उन्हें छप्पन भोग के तरह खिलाते हैं और वही प्रसाद के रूप में सभी भक्तजनों को दिल से दिया जाता है और वहीं पर सारे लोग दूर-दूर से आते हैं और अपने मनोकामना पूरी करते हैं और कामना पूरी हो जाने पर गई थी उसको पूरा भी करते हैं 

भारत एक ऐसा देश है जहां पर सभी  देवी देवताओं को बड़ी ही श्रद्धा के साथ में पूजा जाता है भगवान की सेवा की जाती है भगवान की आस में यहां पर बहुत सारे भंडारे चलाए जाते हैं जिससे आने वाले राहगीरों भक्तजनों को भी उसका लाभ मिल सके और हां भारतवर्ष में श्रीकृष्ण भगवान को लेकर विदेशों में भी किसी कृष्ण भगवान का प्रचलन बहुत ज्यादा है विदेश के लोग भी सिंगापुर अमेरिका न्यू कनाडा के देश  विदेशों में भी भगवान श्री कृष्ण का डंका भोला भाला जाता है वहां पर भी बड़ी धूमधाम से कृष्ण जन्माष्टमी पर भगवान कृष्ण का बनेगी माखन की मुट्ठी उन्हें खिलाई जाती है एवं  मिठाई का भोग चढ़ाया जाता है

जन्माष्टमी कौन सी तारीख को है

Krishna Janmashtami Date भारतवर्ष में इस बार कृष्ण जन्माष्टमी 18 अगस्त को मनाया जाएगा  भारतवर्ष में कृष्ण जन्माष्टमी बड़ी ही धूमधाम से मनाया जाता है Krishna Janmashtami Date जैसा कि मैंने ऊपर पैराग्राफ में पहले भी बताया है कि भगवान को यहां पर प्राण से भी ज्यादा माना जाता है यहां पर भगवान की खातिर लोग बाग अपने प्राण त्याग देते हैं क्योंकि उनकी श्रद्धा है  क्योंकि वह भगवान को अपने दिल से चाहते हैं राजस्थान में नाथद्वारा मंदिर भी भगवान कृष्ण के लिए जाना जाता है वहां पर मात्र ढाई ₹100 में एक टाइम की थाली दी जाती है और बहुत ही अच्छे से वहां का बाजार श्री कृष्ण भगवान को प्रचलित करता है  Krishna Janmashtami Date

अच्छा दोस्तों हमने आपको बताया कि भगवान कृष्ण जन्माष्टमी क्यों मनाई जाती है किस लिए बनाई जाती है और कहां कहां पर बनाई जाती है तो हम आशा करते हैं कि आपको हमारा द्वारा लिखा गया आर्टिकल बहुत ही पसंद आया होगा अगर आपको पसंद आया है तो इस आर्टिकल को ज्यादा से ज्यादा लोगों में शेयर करें ताकि हम अच्छा ज्ञान जगह-जगह तक पहुंचा सके धन्यवाद दिल से |

Krishna Janmashtami 2022 | कृष्णजन्माष्टमी का पर्व क्यों मनाया जाता है | कृष्ण जन्माष्टमी इन सांवरिया जी | जन्माष्टमी कौन सी तारीख को है

Add a Comment

Your email address will not be published.