Noida Supertech Twin Tower | नोएडा सुपरटेक ट्विन टावर को आज गिराया गया

नोएडा सुपरटेक ट्विन टावर को आज गिराया गया 2:30 pm Time

तो चलिए दोस्तों आज हम आपको बताएंगे कि नोएडा में सुपरटेक ट्विन टावर को आज को गिराया गया इसको गिराने की मेन वजह क्या थी

तो दोस्तों हम आपको बता दें कि जो पूछा वह एक अवैध रूप से बनाया गया था ट्विन टावर को अवैध रूप से बनाए जाने की मेरी वजह से बिल्डर्स थे उसकी जमीन थी और जो उसको इतना ऊंचा बनाया गया था तो हम आपको बता दें कि जो सुप्रीम कोर्ट ने इसे गिरा देने की बात बोली थी यही बात थी जा रही थी तो अब जाकर 28 अगस्त को हटाया गया 2:30 बजे

पहली बार टावर गिराने की बात कब हुई

सुप्रीम कोर्ट ने पहली बार 31 अगस्त 2021 को टावर दिया गिराने की तारीख दी थी किसी एक कंपनी को तो वह कंपनी उस समय टावर गिराने में असमर्थ हुई तो सुप्रीम कोर्ट ने यह तारीख बढ़ाकर 22 मई 2022 को दिया गया था पर टावर गिराने वाली कंपनी उस समय भी टावर गिराने में असमर्थ को की बिल्डिंग बहुत बड़ी होने की वजह से वह बम लगाने में असमर्थ हैं इस बिल्डिंग में समथिंग से 3700 किलो बम लगाए गए थे और बोला जाए तो करीब 37 क्विंटल बम लगाए गए थे वह बम लगाने से पहले वहां के 5000 लोग वहां से हटा गया घटा दिया गया था उसे दिए थे और उस पूरे जो कोशिश कर लिया गया था और उस एरिया में जितने भी वहां थे गाड़ी घोड़े हाथी भी स्त्री को आने के लिए मना कर दिया गया था और उनका वाहन यातायात सभी तरीके से पुनः बंद कर दिया गया था

Noida Supertech Twin Tower
Noida Supertech Twin Tower

क्योंकि यह बिल्डिंग कुतुब मीनार से भी बड़ी है जो कि दिल्ली में पाया जाता है बताया जा रहा है कि नोएडा सुपरटेक एक आईटी कंपनी के लिए बनाया जा रहा था पर यह अवैध तरीके से बनाया जा रहा था इसीलिए सुप्रीम कोर्ट ने इस टावर को गिराने की बात कही थी और आज 28 अगस्त को 2:30 बजे को गिरा दिया गया है इस टावर को गिराने के लिए सभी न्यूज़ मीडिया वाले ने अपने कैमरे लगा रखे थे जिसमें एनडीटीवी न्यूज़ शामिल है

जानिए ट्विन टावर को गिराने में इतना समय क्यों लगा

ऐसा हमने बताया कि 22 मई 2022 को भी टावर गिराने में वह कंपनी असमर्थ नहीं तो या तारीख बढ़ाकर 21 अगस्त 2022 कर दी गई और उस कंपनी को एनओसी ना मिलने की वजह से उस कंपनी और समय दिया गया और फाइनल तारीख 28 अगस्त 2022 कर दी गई 2:30 बजे देने की वजह से बहुत सारा वायु प्रदूषण हुआ है नोएडा में

वायु प्रदूषण पर सरकार का कहना

नोएडा की सुपर टेक कंपनी को गिराने के बाद बहुत सारा जो वायु प्रदूषण हुआ है तो उसके चलते हुए वहां पर सभी यातायात को रोक दिया गया है गाड़ी कार बाइक वाहन जितने लोग वहां से दूर रखा गया है बिल्डिंग जाते हो तो साफ होने लगा है वहां पर कुछ अच्छी दवाइयों का छिड़काव किया जाएगा जिससे बीमारियां ना फेले

तो चलिए दोस्तों हमने आपको इस आर्टिकल में बताया कि नोएडा का सुपर टेक टावर क्यों गिराया गया और उसको बुलाने की क्या वजह थी अगर आपको हमारा आर्टिकल पसंद आया हो तो हमें लाइक एंड फॉलो करें और हमारा ठीक और को शेयर करें धन्यवाद

Add a Comment

Your email address will not be published.